न्यूमोकॉकल बैक्टेरिया से होने वाली निमोनिया को रोकने के लिए पहल

 

आगरा।

आगरा। न्यूमोकॉकल बैक्टेरिया से होने वाली निमोनिया को रोकने के लिए जनपद में न्यूमोकॉकल कांजुगेट वैक्सीन (पीसीवी) की तीनों डोज निःशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। इस उद्देश्य को लेकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आर सी पांडेय ने गुरूवार को जीवनी मंडी प्राथमिक चिकित्सा केंद्र पर पीसीवी का उदघाटन किया।

अब इस टीके को पूरे जिले में निशुल्क लगाया जाएगा। इस मौके पर डॉ. विजेंद्र सिंह चंदेल, सुचित्रा, डॉ. मेघना शर्मा, विद्या, मधुमिता (डीएमसी), अमृतांशु, शिव तिवारी, आकाश गौतम, आंगनवाड़ी सुपरवाइजर स्वर्णलता सहित जीवनी मंडी पीएचसी का स्टाफ मौजूद रहा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरसी पांडेय ने बताया कि इस टीके का प्रत्येक डोज निजी अस्पतालों में करीब 3000 रुपये में लगता है, लेकिन अब यह सभी सरकारी अस्पतालों और एएनएम सब सेंटर पर निःशुल्क लग सकेगा।

डीआईओ डॉ. संजीव वर्मन ने बताया कि पहले 11 टीके निःशुल्क लगाये जाते थे, जिनकी संख्या बढ़ कर अब 12 हो जाएगी। उन्होंने जनसमुदाय से अपील की है कि लोग आगे आकर बच्चों को यह टीका लगवाएं क्योंकि देश में हर साल इस निमोनिया से 1.5 लाख बच्चे जान गंवा देते हैं। उन्होंने बताया कि देश में 5.6 लाख बच्चे न्यूमोकॉकल बैक्टेरिया के कारण होने वाली निमोनिया से गंभीर तौर पर बीमार हो जाते हैं जो चिंता का विषय है। शासन ने इस बात को ध्यान में रखते हुए आगरा जनपद के नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में पीसीवी को शामिल किया है।

मुख्य चिकित्साधिकारी ने लोगों से अपील किया है कि वे कोविड-19 पर गाइडलाइन का पालन करते हुए अपने बच्चों का नियमित टीकाकरण अवश्य करवाएं। टीके का बच्चे की सेहत पर कोई प्रतिकूल असर नहीं होता है। प्रत्येक बुधवार व शनिवार को सभी एएनएम सब सेंटर्स, स्वास्थ्य केंद्रों व शहरी स्वास्थ्य केंद्रों पर निशुल्क टीकाकरण होता है।

कोविड-19 संक्रमण के कारण टीकाकरण में फिजिकल डिस्टेंसिंग का खास ध्यान रखा जा रहा है। जो भी लोग टीकाकरण के लिए बच्चों को सेंटर पर ले आएं वह हाथों की साफ-सफाई, मॉस्क के उपयोग और दो गज दूरी का अवश्य ध्यान रखें।